बहुधा पूछे जाने वाले प्रश्न पृष्ठ

Oxford Global Languages के लक्ष्य क्या हैं? 


कार्यक्रम का समग्र उद्देश्य 100 भाषाओं के लिए विषय-वस्तु को ऑनलाइन लाना और उस विषय-वस्तु को विश्वभर के उपयोगकर्ताओं और विकासकर्ताओं के लिए उपलब्ध कराना है। यह करने के लिए, दल को ऐसी भाषाई एवं शब्दकोशीय विषय-वस्तु की रचना करनी होगी जिसे कई तरीकों से भंडारित व लिंक किया जा सकता है और सुगम्य बनाया जा सकता है। OGL की पहल डिजिटल प्रतिनिधित्व के मामले में पीछे छूट चुकीं भाषाओं को पुनर्जीवित व समर्थित करने के लिए और विश्व की प्रमुख भाषाओं के लिए नए डिजिटल टूल्स व संसाधनों के विकास को सक्षम बनाएगी। इससे सभी भाषाओं को डिजिटल परिदृश्य में एक समकालीन, वृद्धिशील एवं जीवंत उपस्थिति मिलेगी और उन्हें व उनके प्रकारांतरों व बोलियों को प्रलेखित करने में सहायता मिलेगी। 


आप यह कैसे चुनते हैं कि किन भाषाओं को लांच करना है? 


OGL का लक्ष्य कुल मिलाकर कम से कम 100 भाषाओं का है और हम जानते हैं कि इसे हासिल करने में कई वर्ष लगेंगे। हमने विभिन्न क्षेत्रों से, अलग-अलग डिजिटल उपस्थिति वाली सिर्फ दस, बेहद अलग-अलग भाषाओं के साथ शुरूआत की थी जो OGL के सिद्धांतों का प्रदर्शन करने और आगे बढ़ने के साथ-साथ हमारी धारणाओं को चुनौती देने के लिए थी। आगे बढ़ने के साथ-साथ हम विभिन्न भाषाओं को शामिल करते जाएंगे जिनमें वैश्विक भाषाएं और डिजिटल प्रतिनिधित्व में पीछे छूट गईं भाषाएं, दोनों ही शामिल की जाएंगी। 


कार्यक्रम में कौन-सी भाषाएं शामिल की गई हैं? और मुझे यह कहां से पता चल सकता है कि कौन-सी भाषाएं लांच की जाएंगी?

हमने कौन-सी भाषाएं लांच कर दी हैं और कार्यक्रम में कौन-सी भाषाएं जोड़ी जा रही हैं इस बारे में आपको सारी जानकारी यहां मिल जाएगी। वैकल्पिक रूप से, आप यहां हमारी Oxford Global languages समाचार-पत्रिका के नियमित पाठक बन सकते हैं।

क्या आप कार्यक्रम के संबंध में स्थानीय संगठनों और सरकारी परिषदों/मंडलों के साथ कार्य करते हैं?
हाँ, पर हम किसी भी मौजूदा संस्था/इकाई/कंपनी से संबद्ध या उसका भाग नहीं हैं। Oxford Global Languages एक नई एवं पूर्णतः स्वतंत्र पहल है जो Oxford University Press, जो कि विश्वभर में प्रज्ञा व विद्वता को प्रसार देने के विश्वविद्यालय के मिशन का एक भाग है, द्वारा समर्थित है। पर हम ऐसे किसी भी संगठन के साथ साझेदारी में कार्य करने के लिए उत्सुक हैं जिसके लक्ष्य OGL के लक्ष्य जैसे हैं या जो OGL के लक्ष्यों में रुचि रखता है। कार्यक्रम के विकसित होने के साथ-साथ, हम राष्ट्रीय भाषा परिषदों/मंडलों, शिक्षाविदों, विश्वविद्यालयों एवं कंपनियों के साथ संबंध खोजते रहेंगे।हम पहले ही
विश्वभर के साझेदारों, शिक्षाविदों और भाषा विशेषज्ञों के साथ कुछ उदात्त संबंध बना चुके हैं। यदि आप कार्यक्रम का भाग बनने में रुचि रखते हैं, तो कृपया हमसे संपर्क करें।


प्रत्येक भाषा साइट के लिए विषय-वस्तु कहाँ से आती है?

हमारी विषय-वस्तु वास्तविक भाषा, वास्तविक उपयोग एवं वास्तविक उपयोगकर्ताओं पर आधारित होती है। OGL कार्यक्रम में शामिल कुछ भाषाओं के लिए अद्यतन शब्दकोश अस्तित्व में हैं ही नहीं। अतः जहां कुछ मामलों में हम किसी मौजूदा शब्दकोश का उपयोग हमारे आरंभ बिंदु के रूप में करते हैं, वहीं कुछ अन्य मामलों में हमें अर्थ के ढांचे के साथ शुरूआत करनी होती है। यह शुरूआत भाषा उपयोग के कच्चे माल - लिखित ग्रंथ समूह - के साथ की जाती है जिससे हम सभी प्रकार की भाषाई जानकारी स्वचालित ढंग से निकाल लेते हैं। इससे हमारे कोषरचनाकारों को नए आँकड़ा समुच्चय बनाने के लिए एक आरंभ बिंदु मिल जाता है। हम आप उपयोगकर्ताओं को भी शामिल होने के लिए आमंत्रित करते हैं। उदाहरण के लिए, आप अपनी भाषा से संबंधित अनुवादों एवं अन्य जानकारी में योगदान दे सकते हैं। हम इन योगदानों को ‘उपयोगकर्ता-सृजित विषय-वस्तु’ कहते हैं, और इसका उपयोग संपादकीय कार्य को सुविज्ञ बनाने के लिए किया जाता है जो प्रत्येक भाषा के लिए उपलब्ध विषय-वस्तु में आगे और निर्माण करता है।


क्या उपयोगकर्ता सृजित विषय-वस्तु, ‘पारंपरिक’ भाषा को विकृत करती है? 


भाषाई मुद्दों पर लोग चर्चा आरंभ किए बिना नहीं रह पाते क्योंकि बहुत से लोग अपनी भाषा, जिसे वे बोलते हैं, के बारे में गहराई से महसूस करते हैं। कुछ लोगों को लगता है कि केवल ‘विशेषज्ञों’ को ही भाषा के बारे में जानकारी हो सकती है और यह कि कठबोली या आम बोलचाल की भाषा हो न हो, ‘गलत’ ही होती है और उसका शब्दकोश में कोई स्थान नहीं है। हमारा मानना है कि भाषा के सभी रूप, औपचारिक हों या अनौपचारिक, महत्त्वपूर्ण होते हैं और यह कि जन्मज वक्ता अपनी स्वयं की भाषा के बारे में पहले से ही बहुत कुछ जानते हैं। OGL कार्यक्रम के साथ हमारा लक्ष्य यह है कि कोई भाषा - उसके सभी उपयोगकर्ताओं द्वारा - किस प्रकार प्रयोग में लाई जाती है इस बारे में अधिकतम संभव जानकारी एकत्र की जाए, ताकि हम जो करते हैं वह सभी के लिए प्रासंगिक हो। 


कुछ भाषाओं को अन्य की तुलना में कहीं अधिक विस्तृत व्याप्ति (कवरेज) मिली है। ऐसा क्यों? 


कार्यक्रम के सिद्धांतों में से एक है ‘छोटी शुरूआत करें और निर्माण करते जाएं’। इसलिए भले ही किसी भाषा के लिए हमारे पास बहुत थोड़ी मात्रा में विषय-वस्तु उपलब्ध हो, हम इसे कार्यक्रम में शामिल कर सकते हैं ताकि उपयोगकर्ता विषय-वस्तु का उपयोग आरंभ कर सकें और हमें अपनी राय दे सकें। कार्यक्रम के विकसित होने के साथ-साथ विषय-वस्तु में भी वृद्धि होती है। 


मैं मेरा शब्दकोश या मेरी भाषा OGL कार्यक्रम में किस प्रकार जोड़ सकता/ती हूँ?

हम सब कुछ तो शामिल नहीं कर सकते हैं पर हाँ, कुछ भाषाएं हैं जिनके लिए हमारे पास पहले से विषय-वस्तु उपलब्ध नहीं हैं। यदि आप, आपके विश्वविद्यालय या आपके संगठन के पास ऐसा कुछ है जो आपके विचार में कार्यक्रम के लिए उपयोगी हो सकता है, या OGL को किस दिशा में जाना चाहिए इस बारे में आपके पास सुझाव हैं, तो कृपया हमसे अवश्य संपर्क करें। 



विश्वभर की भाषाओं के विकास में Oxford की क्या भूमिका है? 


OUP एक वैश्विक संगठन है जिसके पास अद्वितीय संसाधन, कौशल एवं ज्ञान है और, हमारे मिशन के भाग के रूप में, हम इन संसाधनों को अधिकतम संभव विस्तृत ढंग से साझा करना चाहते हैं। हम स्थानीय भाषा विशेषज्ञों, जो उनके भाषाई समुदाय का भाग होते हैं, के साथ मिलकर उनकी भाषा के लिए विशिष्ट विषय-वस्तु विकसित करने के लिए कार्य करते हैं। यह हमारे मिशन - हमारे संसाधनों को विविधतापूर्ण व्यापक समुदाय के लाभ के लिए साझा करना - का एक भाग है। 


स्थानीय भाषा समुदायों की कितनी संलग्नता होती है? 


सामुदायिक संलग्नता आवश्यक है। हम चाहते हैं कि स्थानीय भाषा समुदाय कार्यक्रम में संलग्न हों, भले ही यह संलग्नता विषय-वस्तु सुझाने के लिए हो या हमारे संसाधनों के उपयोग मात्र के लिए। कार्यक्रम के विकसित होने के साथ-साथ ऐसी नई पहलें की जाएंगी जो भाषा समुदायों को विषय-वस्तु में वृद्धि करने और अपनी-अपनी भाषा की विषय-वस्तु का उपयोग करने की सुविधा देंगी। 


वह क्या है जो OGL को अलग बनाता है? 


कई कार्यक्रम निःशुल्क भाषा साइटें प्रदान करते हैं या भाषाई संसाधन एकत्र करने पर लक्षित होते हैं, पर ऐसे कुछ ही कार्यक्रम अस्तित्व में हैं जो OGL का आधार बनने वाले शक्तिशाली कोषरचना सिद्धांतों के साथ इतनी सारी भाषाओं के लिए व्यापक और गहन कोश संसाधनों का सृजन करते हैं। हमारी विषय-वस्तु वास्तविक उपयोग पर आधारित होती है एवं उसे दीर्घकाल तक अद्यतित एवं अनुरक्षित रखा जाता है, जिससे भाषाएं समकालीन और जीवंत बनी रहती हैं। हम क्यों अलग हैं इसका कारण हमारे मिशन में है - हम किसी तात्कालिक लाभ के लिए नहीं, बल्कि विश्वभर की भाषाओं के दीर्घकालिक भविष्य के लिए निर्माण कर रहे हैं। 


क्या OGL की विषय-वस्तु निःशुल्क है? 


सभी OGL वेबसाइटें उपयोग के लिए निःशुल्क हैं।आप शब्द, अनुवाद एवं अन्य भाषाई जानकारी ढूंढ सकते हैं। साइटों को मूल भाषा के साथ-साथ अंग्रेज़ी में प्रस्तुत किया जाता है ताकि उनकी उपयोगिता अधिकतम की जा सके।

OGL भाषाओं को एक वेबसाइट के रूप में लांच करने के साथ-साथ हम उन्हें एक API कार्यक्रम के भाग के रूप में भी लांच करते हैं। यदि आप एक विकासकर्ता हैं जो अपने एप्लिकेशन में भाषाई आँकड़ों का उपयोग करने में रुचि रखते हैं, तो आप निजी एवं सीमित उपयोग के लिए OGL की विषय-वस्तु तक निःशुल्क पहुँच सकते हैं और यदि आप अधिक व्यापक रूप से APIs का उपयोग जारी रखना चाहते हैं तो आप हमारे मासिक प्लान सब्सक्राइब कर सकते हैं। अधिक विवरण के लिए कृपया हमारे API पृष्ठ पर पधारें या हमसे यहां संपर्क करें।


मुझे OGL परियोजना के साथ संलग्न होने से संबंधित जानकारी कहां मिल सकती है? 

हमें आपकी राय जानकर खुशी होगी, इसलिए हमसे अवश्य संपर्क करें यदि : 

  • आप कार्यक्रम के बारे में अधिक जानकारी चाहते हों 
  • आपको लगता है कि आप या आपका संगठन OGL के लक्ष्यों को हासिल करने में हमारी 
  • हायता करने के लिए Oxford Dictionaries के साथ मिलकर कार्य करना चाहेंगे।
    आप OGL समाचार-पत्रिका के नियमित पाठक बन कर हमसे जुड़े रहना चाहते हों
    हमसे यहां संपर्क करें।